logo

khurmi ( खुरमी )

  • khurmi ( खुरमी )

Share This

  • Cuisine : CHATTISGARH (छत्तीसगढ़)
  • Course : Dessert

खुरमी को गेहूं के आटे में गुड पिघला कर मिला कर एक आटा तैयार करके तेल में तल कर बनाया जाता है | छत्तीसगढ़ का एक पारम्परिक मिठाई है खुरमी इसे विशेषतौर पर पोला और तीज के मौके पर बनाया जाता है |
खुरमी और ठेठरी के बिना यह त्यौहार अधुरा मन जाता है इसलिए इसे छत्तीसगढ़ का एक विशेष पकवान मन जाता है ..आइये इसे बनाने की विधि देखें ;
 


Ingredients

    २५० ग्राम गुड
    ३\४ कप पानी
    २५० ग्राम गेहूं का आटा
    १०० ग्राम मैदा
    १\८ छोटे चम्मच कुटी हुई काली मिर्च
    १\२ कप बारीक़ कटे हुए सूखे नारियल
    चुटकी भर नमक
    ३ बड़े चम्मच घी
    तलने के लिए तेल
     

Recipe By

Method

  • १ . एक कड़ाई को गैस पर रखें , गुड को हल्का सा कूट लें फिर डालदें कड़ाई में ३\४ कप पानी डालें गुड को मेल्ट होने तक पकाना है ,जैसे ही गुड पिघल जाये गैस बंद करदें और ठंडा होने छोड़ दें |

    २ एक बर्तन में गेहूं का आटा और मैदा डाले , कालीमिर्च कुटी हुई ,नमक ,सूखे नारियल कटे हुए डालें और घी डालकर अच्छे से मोयन दे दें|
    ३ ठंडा किया हुआ गुड डालकर आटे के जैसा गुंथे अगर जरुरत पड़े तो थोडा पानी डालकर गुंथे, एक सख्त आटा तैयार  करना है  |
    ४ . अब गुथे हुए आटे की निम्बू के आकर का गोला लेकर उसे हांथो से गोल करके , दबाकर चपटा करलें ,उपर की तरफ कांटे की सहायता से डिजाइन बनालें इसी तरह से सारे खुरमी बनालें |
    ५ . एक कड़ाई में तेल गर्म करें तलने के लिए , हल्के  गर्म तेल में ४ से ५ खुरमी एक बार में डालकर धीमी आंच में तलें दोनों तरफ से पलट पलट कर सुनहरे होने तक तलें |
    ६ , निकाल कर ठंडा होने दें , ठंडा होने के बाद उपर से कुरकुरे और अंदर से हल्के नर्म होते हैं |

    टिप्स
    १ . गुड का पाग नहीं तैयार करना है सिर्फ , पिघलाना है |
    २ . अधिक गुड और मोयन होने से तेल में तलते समय बिखरने लगेंगे |
    ३ अगर तेल में बिखरने लगे तो तदा मैदा या आटा मिक्स कर गूँथ लें , फिर बनायें |